Rate this post

Mahendra Singh Dhoni Biography: महेंद्र सिंह धोनी किसी  परिचय के मोहताज नहीं है, ये क्रिकेट की दुनिया के महान खिलाड़ियों में से एक हैं, जिन्हें पूरी दुनिया में  पहचाने जाते हैं। फिर भी जनसामान्य क्रिकेट के बाहर इनकी दुनिया के बारे में कम ही जानते हैं या हर कोई नहीं जानता है,

तो आज के इस ब्लॉग में इस महान खिलाड़ी के बारे में जानेंगे कि इनकी प्रारंभिक जीवन, जन्म स्थान, परिवार, इनकी शिक्षा, क्रिकेट से पहले का जीवन, प्रेम, विवाह व उपलब्धियां, इन सारी बातों को एक एक करके जानेंगे ।

Table of Contents

1. महेंद्र सिंह धोनी का प्रारंभिक जीवन (Early Life of Mahendra Singh Dhoni)

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

महेंद्र सिंह धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को वर्तमान झारखंड के रांची शहर में हुआ था। इनके पिता का नाम पान सिंह और इनकी माता का नाम देवकी देवी है। इनके पिता मेंकाॅन कर्मचारी, कनिष्ठ प्रबंधक पद पर वर्तमान समय में कार्यरत है तथा इनकी माता देवकी देवी गृहणी हैं । 

महेंद्र सिंह धोनी के एक बड़े भाई भी हैं, जिनका नाम नरेंद्र सिंह धोनी है जो कि पेशे से एक राजनेता हैं तथा इनकी एक बड़ी बहन है जिनका नाम जयंती गुप्ता है। 

महेंद्र सिंह धोनी का परिवार मूल रूप से उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के गांव लावली से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता पान सिंह 1970 के दशक में अपने गांव छोड़कर झारखंड में आकर बस गए थे, तब से  उनका परिवार यहीं पर रहता है। लवली गांव में उनका आज भी एक पुश्तैनी घर है।

2. महेंद्र सिंह धोनी की प्रारंभिक शिक्षा (Elementary education of Mahendra Singh Dhoni)

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

महेंद्र सिंह धोनी की स्कूली शिक्षा रांची वर्तमान झारखंड के डीएवी जवाहर विद्या मंदिर श्यामली रांची झारखंड से हुआ । दसवीं तक स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद इन्होंने सेंट जेवियर्स कॉलेज रांची झारखंड में नामांकन करवाया, इन्होंने  किसी कारण बीच में ही कॉलेज की शिक्षा छोड़ दी। इसलिए इनके पास किसी प्रकार की कॉलेज की डिग्री नहीं है, लेकिन इनके क्रिकेट में लगाव के कारण ये  क्रिकेट के  लोकप्रिय खिलाड़ियों में से एक हैं।

3. धोनी का क्रिकेट से लगाव (Dhoni’s love for cricket) 

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

महेंद्र सिंह धोनी को बचपन में फुटबॉल खेलना काफी पसंद था। लेकिन खेलों के प्रति उनका अच्छा खासा लगाव था । यही उनका खेल के प्रति लगाव धीरे धीरे क्रिकेट की ओर हो गया।  प्रारंभ में उन्होंने घरेलू और स्टेट लेवल के कई सारे क्रिकेट टूर्नामेंट खेले और उनमें जीत भी दर्ज कराएं, इस तरह वो कई कोच के नजर में भी आ गए। उनके क्रिकेट में अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए बंगाल के पूर्व क्रिकेट कप्तान पीसी पोद्दार ने इनको जमशेदपुर में टैलेंट रिसोर्स डेवलपमेंट विंग मैच के दौरान काफी अच्छे प्रदर्शन करते हुए देखा,

जिसके बाद 1998-99 सीजन में उन्हें बिहार अंडर-19 टीम में चुना गया जहां उन्होंने 5 मैचों में 176 रन बनाए थे। इस तरह महेंद्र सिंह धोनी की क्रिकेट में करियर शुरुआत हुई ।

4.  धोनी का क्रिकेट करियर से पहले का संघर्ष (Dhoni’s struggle before cricket career)

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

धोनी ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत में 1999 से 2003 तक बिहार के क्रिकेट टूर्नामेंट खेले,  जिनमें उनका प्रदर्शन अच्छा था,  लेकिन सेलेक्सन कमेटी द्वारा उनको नजरअंदाज कर दिया गया जिस कारण वह काफी हताश हो गए,  संघर्ष के इस समय में उन्होंने क्रिकेट में अपना भविष्य ना देख पाने के कारण 2001 से 2003 तक पश्चिम बंगाल के खड़कपुर रेलवे स्टेशन पर 3 साल तक लगातार टिकट कलेक्टर का काम किया । लेकिन उनको वहां पर मन नहीं लगा । आखिर मे उन्होंने मन की सुनी,  2003 में उन्होंने  टिकट कलेक्टर का काम छोड़कर क्रिकेट में एक आखरी मौका आजमाने के लिए चल पड़े।

5. महेंद्र सिंह धोनी के क्रिकेट कैरियर का शुरुआत (Beginning of Mahendra Singh Dhoni’s cricket career)

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

 2004 में महेंद्र सिंह धोनी के क्रिकेट करियर में एक बेहतरीन मोड़ आया। जब उनको भारत के जिंबाब्वे और केन्या दौरे के लिए चुना गया, जहां पर उन्होंने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया और वे सबकी नजर में भी आ गए। धोनी ने जिंबाब्वे के खिलाफ मैच में 7 कैच और 4 स्टॉपिंग की थी । जहां पर भारत, केन्या और पाकिस्तान की एक त्रिकोणीय राष्ट्र टूर्नामेंट में पाकिस्तान टीम के खिलाफ अर्धशतक लगाया, जिससे कि टीम इंडिया को 230 रनों का लक्ष्य पूरा करने में आसानी हुई।

उन्होंने 6 पारियों में  72.40 की औसत से 362 रन बनाए। इस बेहतरीन प्रदर्शन के कारण भारतीय क्रिकेट टीम के तत्कालीन कप्तान सौरव गांगुली, रवी शास्त्री आदि खिलाड़ियों का ध्यान  उनकी ओर आकर्षित हो गया ।

महेंद्र सिंह धोनी को 2004-05 में बांग्लादेश दौरे के लिए एक दिवसीय टीम में चुने गये। धोनी अपने डेब्यू मैच में डक पर रन आउट हो गए। बांग्लादेश के खिलाफ एक और श्रृंखला खेलने के बावजूद धोनी को पाकिस्तान के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला के लिए चुना गया। जिसमें धोनी ने बहुत ही बेहतरीन प्रदर्शन किया। इस मैच में धोनी ने 123  गेंदों में 148 रन बनाए।  जिसमें भारतीय विकेटकीपर द्वारा सर्वाधिक रन  बनाने का एक रिकॉर्ड बन गया। 

अक्टूबर-नवंबर 2005 में धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ 145 गेंदों में नाबाद 183 रनों की पारी खेली जिसमें धोनी को मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला।  इस तरह धोनी को दिसंबर 2015 में बीसीसीआई से बी ग्रेड का अनुबंध मिला।

पाकिस्तान के खिलाफ एक सीरीज में धोनी ने तीसरे मैच में 40 गेंदों पर 72 रन बनाए, जिससे भारत को बढ़त दिलाने में मदद मिली। फाइनल मैच में धोनी ने 56 गेंदों पर 77 रन बनाए, जिससे भारत को 4-1 से सीरीज जीतने में मदद मिली।  इस तरह 20 अप्रैल 2006 को रिकी पोंटिंग का रिकॉर्ड तोड़ते हुए आईसीसी ओडीआई रैंकिंग में नंबर वन के बल्लेबाज बन गए। 

6. धोनी के घर में तोड़फोड़

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

भारत 2007 में क्रिकेट विश्व कप से बाहर हो गया तथा धोनी मैच में डक पर आउट हो गए थे। धोनी अपने  क्रिकेट करियर में खराब प्रदर्शन कर रहे थे। धोनी के इस खराब प्रदर्शन को देखते हुए लोगों में काफी गुस्सा भर गया था, जिस कारण कुछ दलों के कार्यकर्ताओं के द्वारा उनके घर पर तोड़फोड़ की गई थी जिससे उनके परिवार को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

8.  महेंद्र सिंह धोनी बने टीम इंडिया के कप्तान (Mahendra Singh Dhoni became the captain of Team India)

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

2007 में धोनी को दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला के लिए वनडे टीम का उप कप्तान बनाया गया। इस सिलसिले में धोनी को बीसीसीआई से 1 ग्रेड का अनुबंध में मिल गया जिस कारण सितंबर 2007 में विश्व 20-20 मैच के लिए धोनी को टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया।  

9. कैप्टन धोनी ने दिलाया वर्ल्ड कप

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

 2011 में धोनी ने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया और फाइनल में पाकिस्तान से जीतकर भारत को फाइनल तक पहुंचाया।  भारत ने फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ गौतम गंभीर और युवराज सिंह के साथ 275 रनों के लक्ष्य के साथ भारत को जीत दिलाई। धोनी ने 91 रन बनाने के बाद ऐतिहासिक छक्का लगाकर मैच का अंत किया, जिसके लिए महेंद्र सिंह धोनी को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला और इस तरह भारत ने दूसरी बार 2 अप्रैल 2011 को वर्ल्ड कप मिला। भारतीय टीम और महेंद्र सिंह धोनी के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि थी।

इस तरह महेंद्र सिंह धोनी ने क्रिकेट करियर में बहुत सारे रिकॉर्ड बनाएं बहुत सारे रिकॉर्ड तोड़े इनके बीच उनका क्रिकेट करियर उत्तर चढ़ाव के साथ बढ़ता रहा। जनवरी 2017 में कैप्टन के रूप में अपना पद छोड़ दिया,  इसके बाद वह विकेटकीपर की तरह टीम इंडिया के लिए खेलते रहे ।

महेंद्र सिंह धोनी ने संन्यास लेने की घोषणा की थी । अंततः 15 अगस्त 2020 के दिन महेंद्र सिंह धोनी ने 16 साल के अपने लंबे क्रिकेट करियर से हमेशा हमेशा के लिए सन्यास ले लिया।  महेंद्र सिंह धोनी  निश्चय ही आज टीम इंडिया के लिए क्रिकेट नहीं खेलते लेकिन आपने बेहतरीन क्रिकेट करियर के लिए आज भी उनके क्रिकेट फैंस उनको याद करते हैं।

10. महेंद्र सिंह धोनी का प्यार और शादी (Mahendra Singh Dhoni’s love and marriage)

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

महेंद्र सिंह धोनी अपने समय के बेहतरीन क्रिकेट खिलाड़ियों में से एक हैं। अपने क्रिकेट कैरियर की शुरुआत के समय महेंद्र सिंह धोनी  प्रियंका झा से प्यार करते थे । ये समय था 2002 का, जब धोनी टीम इंडिया में चुने जाने के लिए पूरी कोशिश कर रहे थे। इसी बीच उनकी प्रेमिका का दुर्घटना में मृत्यु हो गई, जिस कारण धोनी को काफी सदमा लगा। 

इसके बाद धोनी के जीवन मैं बहुत सारी हीरोइनों के साथ नाम जुड़ते रहा। अंत में धोनी ने 4 जुलाई 2010 को अपने स्कूल के दोस्त साक्षी से शादी कर ली।  साक्षी उस समय कोलकाता में होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रही थी शादी के बाद 6 फरवरी 2015 को महेंद्र सिंह धोनी पिता बने। इनको एक बेटी हुआ,  जिसका नाम इन्होंने जीवा रखा है। फिलहाल महेंद्र सिंह धोनी अपने पूरे परिवार के साथ अपने होम टाउन रांची झारखंड में रहते हैं। उनके बहुत सारे बिजनेस भी हैं,  जिनमें वो व्यस्त हैं।

MS Dhoni Lifestyle | Biography | Life Story

भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography)

Mahendra Singh Dhoni जीवन का परिचय इस से पूछे जाने वाले प्रश्न

महेंद्र सिंह धोनी कहाँ के रहने वाले हैं?

महेंद्र सिंह धोनी भारत के झारखण्ड राज्य की राजधानी राँची ज़िले के रहने वाले हैं?

महेंद्र सिंह धोनी ने क्रिकेट खेलना कब शुरू किया था?

महेंद्र सिंह धोनी ने 23 दिसंबर 2004 को उन्होंने अपना पहला वनडे मैच बांग्लादेश के खिलाफ चटगांव में खेला

महेंद्र सिंह धोनी की उम्र कितनी थी?

महेंद्र सिंह धोनी की उम्र 41 वर्ष 7 जुलाई 1981 है

महेंद्र सिंह धोनी का निक नेम क्या है?

महेंद्र सिंह धोनी का निक नेम माही है

महेंद्र सिंह धोनी का कितना बेटा बेटी है?

महेंद्र सिंह धोनी की एक ही बेटी है जिसका नाम प्यार से महेंद्र सिंह धोनी ने जीवा रखा है

निष्कर्ष:

तो दोस्तों, ऊपर मैंने भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जीवन का परिचय (Indian cricket team legend Mahendra Singh Dhoni Biography) के बारे में विस्तार से जानकारी दी है

मुझे उम्मीद है कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट में लिखकर जरूर बताएं, हम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

यह भी पढ़ें

2 COMMENTS

  1. 5 विकेट से हारने के बाद, वसीम अकरम ने बाबर आजम की इस 5 गलतियों पर प्रकाश डाला, - KhabariNewsLive.com

    […] […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here