Home NEWS जम्मू में CISF की बस पर हुए आतंकी हमले का आरोपी आबिद...

जम्मू में CISF की बस पर हुए आतंकी हमले का आरोपी आबिद अहमद मीर गिरफ्तार

16
Rate this post


Sunjwan Terror Attack: जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के सुंजवां इलाके में सीआईएसएफ (CISF) की एक बस पर हुए आतंकवादी हमले के मामले में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने पुलवामा (Pulwama) के आबिद अहमद मीर को गिरफ्तार किया है. आरोप है कि आमिर अहमद मीर आतंकवादी संगठनों के ओवरग्राउंड वर्कर के तौर पर काम करता था. इसके साथ ही वह पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं के संपर्क में भी था.

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी के एक आला अधिकारी ने बताया कि मामला 22 अप्रैल 2022 को सूजवां इलाके में सीआईएसएफ की एक गाड़ी पर आतंकवादी हमले से संबंधित है. इस मामले में आतंकवादियों ने घात लगाकर सीआईएसएफ की बस पर हमला किया था. हमले के दौरान सीआईएसएफ का एक सहायक सब इंस्पेक्टर मारा गया था तथा अनेक घायल हुए थे. इस मामले में सुरक्षा बलों ने भी जवाबी फायरिंग की थी जिसमें 2 आतंकवादी मारे गए थे.

एनआइए के अधिकारी कर रहे थे मामले की जांच
इस मामले की शुरुआती जांच स्थानीय पुलिस ने की थी लेकिन बाद में मामले की गंभीरता को देखते हुए इस मामले की जांच एजेंसी को सौंप दी गई थी. एनआईए के आला अधिकारी के मुताबिक इस मामले में बिलाल अहमद नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया था. जो आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा हुआ था. बिलाल से पूछताछ के दौरान आतंकवादियों को स्थानीय स्तर पर पुलवामा जिले के राजपुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत रहने वाले आबिद अहमद मीर ने सुविधाएं उपलब्ध कराई थी. उसने यह भी बताया कि आबिद पाकिस्तान में बैठे आतंकवादी संगठन के आकाओं के संपर्क में भी था. सूचना के आधार पर एनआईए ने आबिद को गिरफ्तार कर लिया है उससे पूछताछ जारी है.

22 अप्रैल को आतंकियों ने बस पर किया था हमला
आपको बता दें कि 22 अप्रैल को जम्मू के सूजवां इलाके में घात लगाकर बैठे आतंकियों ने सीआईएसएफ की बस पर हमला कर दिया था. सीआईएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि बस में 15 जवान सवार थे, सभी मॉर्निंग शिफ्ट में ड्यूटी करने जा रहे थे. इसी दौरान घात लगाए आतंकियों ने बस पर हमला कर दिया था सीआईएसएफ के जवानों ने आतंकी हमले का डटकर मुकाबला किया. इस मुठभेड़ में एक जवान शहीद हो गया था और चार जवान घायल हो गये थे. 

यह भी पढ़ेंः

Delhi University में बोले अमित शाह, कहा- ‘कश्मीर से 370 हटने के बाद किसी की कंकड़ चलाने की भी हिम्मत नहीं’

Terror Funding: टेरर फंडिंग मामले में यासीन मलिक दोषी करार, उम्र कैद तक की हो सकती है सजा

.