Home GOVT SCHEME हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना: किसानों को डेयरी फार्मिंग बिजनेस के लिए...

हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना: किसानों को डेयरी फार्मिंग बिजनेस के लिए सरकार देगी 24 लाख रुपए, जल्दी करें आवेदन – PRADHAN MANTRI YOJANA-EnglishHindiBlogs-PmModiYojana

75
Rate this post


हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना (सदर, आदर्श, आवेदक, आवेदन फॉर्म, लाभ, लाभ, योग्यता, सूची, स्थिति, नियम, ऑनलाइन पोर्टल, आधारिक वेबसाइट, मुफ्त डाउनलोड लाइन नंबर, आखख) हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना (लाभ, लाभार्थी, आवेदन पत्र, पंजीकरण, पात्रता मानदंड, सूची, स्थिति, आधिकारिक वेबसाइट, पोर्टल, दस्तावेज, हेल्पलाइन नंबर, अंतिम तिथि, आवेदन कैसे करें, सब्सिडी)

हिमाचल प्रदेश में हिमाचल प्रदेश में वृद्धि हुई है। इस योजना के तहत योजना के तहत रोजगार के अवसर प्रदान किए गए हैं। गर्भ को प्राप्त करने के लिए।

——— अगर आपको भी यह पसंद है तो यह भी अच्छी स्थिति में होगा। लेख में हम, “हिमाचल प्रदेश दुग्ध गंगा क्या है” और हिमाचल प्रदेश दूध योजना के बारे में पूरी जानकारी।

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना 2022 [Himachal Pradesh Doodh Ganga Yojana]

योजना का नाम:

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना

राज्य:

हि प्रदेश

उद्देश्य:

इसके विपरीत पर लोन देना

लाभार्थी:

हि प्रदेश के किसान और पशुपालक

अधिकारी वेबसाइट:

hpagrisnet.gov.in/hpagris/AnimalHusbandry
बेहतर लाइन नंबर नंबर:

1800 180 8006

इस योजना के अंतर्गत आने वाली संपत्तियाँ इस प्रकार से प्रभावित होती हैं। हिमाचल प्रदेश दूध योजना का कार्य कार्यभार नाबार्ड संस्थान देख रहा है। व्यवस्था करने के लिए बेहतर व्यवस्था करने के लिए बैंकिंग व्यवस्था में सुधार किया गया है।

किसान जो पशु पशुपालन करना चाहते हैं, वे इस योजना के लिए ऋण प्राप्त करेंगे। इस योजना के तहत समूह ने संरचना की और संरचना की और विशिष्ट प्रकार के लोगों के लिए अलग-अलग-अलग-अलगदान की पेशकश की।

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना का उद्देश्य

इस योजना को शामिल किया गया है। जैसे कि योजना के तहत राज्य में सुधार करने के लिए संशोधित किया गया था।

इसके अलावा अच्छी नस्ल के दुधारू जानवरों को तैयार करने के लिए और उनके संरक्षण के लिए बछड़ी पालन को भी प्रोत्साहन दिया जाएगा, साथ ही योजना के उद्देश्य में दूध प्रोडक्शन के परंपरागत तरीकों को उन्नत करके उसे व्यवसायिक स्तर पर लाना भी शामिल है। योजना में शामिल होने के लिए योजना में लागू किया गया है, साथ ही असंबंध में भी लागू किया गया है।

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना के लाभ/एक

हर कक्षा को इसके विपरीत:

इस योजना के तहत इस योजना का निर्माण किया गया था।

केंद्र और राज्य सरकार संचार में सहायता। बंब â ।

लोन के अलगअलग प्रादेशिक

  • किसान अगर दो से के 10 दुधारू पशु खरीदता को ₹500000 का ऋण दिया जाता है। वरमी संपर्क के लिए 0.20 लाख का लोन.
  • दूध की मशीन के लिए 18.00 लाख का लोन मशीन। ट्वीलेट दूध के उत्पाद बनाने की विधि को 1200000 ब्लड का आटा।
  • दुध उत्पाद की बैटरी और कोल्ड चैन सेवाओं के लिए 24 लाख का ऋण। दूध और उत्पाद के कलंक के लिए ₹300000 का ऋण।
  • मोबाइल इकाई के लिए 2.40 लाख, परमाण्ट इकाई के लिए 1.80 लाख ऋण का संचार। बजट से लेकर बजट तक का बजट।

50 प्रतिशत ऋण होगा व्याज मुक्त मुक्त:

स्वयं सहायता समूह को योजना के तहत ₹300000 की स्थिति से 10 सुधार किया गया है, जिसे 50 पर लागू किया गया है।

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना जाना उपयुक्त [Eligibility]

  • इस योजना में हिमाचल प्रदेश के किसान भाई आवेदन कर रहे हैं।
  • गैर सरकारी संस्था, दुग्ध संघ, सहकारिणी संस्था और भी योजना के पात्र पुरुषांग।

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना जाना दस्तावेज़ [Documents]

  • आधार कार्ड
  • पिन कार्ड
  • टेलीफोन नंबर
  • ईमेल पता
  • रंग के रंग का फोटो

जमीन के

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना में आवेदन की प्रक्रियात्मक [Himachal Pradesh Doodh Ganga Yojana Registration]

1: हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना में आवेदन करने के लिए, लिंक पर क्लिक करें। यह लिंक एक वेबसाइट पर चलाया जाता है।

व्यापम वेबसाइट:http://hpagrisnet.gov.in/hpagris/AnimalHusbandry/Default.aspx?SiteID=3&PageID=1380

2: एप्लिकेशन पर लागू करने के लिए आपको “सट्टेबाजी के लिए” लागू करने की आवश्यकता होती है।

3: अब अलग-अलग-अलग-अलग-विजय के नाम दिखाई देने लगे हैं। एंव में आपको दूध की योजना के अनुसार जो क्लिक किया गया है, वह आपके जैसा दिखने वाला है।

4: पूरी तरह से जांच करने के बाद, यह पूरी तरह से ठीक हो जाएगा।

5: सभी जानकारियों को अपलोड करने के लिए अपलोड किए गए पर क्लिक करने के बाद उसे अपलोड किया जाता है।

6: दस्तावेज़ अपलोड करने के लिए लिखा है, डिपनी दर्ज की गई है।

कंप्लीटिशन के लागू होने के साथ ही यह दूध दूध में भरपूर होता है।

हि प्रदेश दुग्ध गंगा योजना बेहतर लाइन नंबर नंबर [Himachal Pradesh Doodh Ganga Yojana Helpline Number]

इस योजना के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए, इसके

1800 180 8006

सामान्य प्रश्न:

प्रश्न: दूध योजना कौन से है?

ANS: हिमाचल प्रदेश

प्रश्न: दूध गंगा योजना के लिए क्या है?

ANS: ऋण के लिए

प्रश्न: दूध आकाशगंगा के दृश्य दृश्य?

ANS: हरियाणा के पशुपालक और किसान भाई

प्रश्न: दूध योजना का लाइन नंबर क्या है?

उत्तर: 1800 180 8006

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here