स्टार Topology किसे कहते हैं?

Rate this post

Star Topology में प्रत्येक Device या Central Node से इन सभी Device का जुड़ाव एक Star के रूप में दिखाई देता है। इसलिए यह star  Topology के नाम से जानी जाती है।

यदि नोड्स या computer आपस में एक दूसरे से Communicate करना चाहते है तो वे Central Server यानि की Hub पर Message भेजते है और Hub इस message को सभी नोड्स या Computer पर वापस भेज देता है।

अनुक्रम दिखाएँ

स्टार टोपोलॉजी की परिभाषा  

Star Topology Lan के लिए बड़े रूप में use होने वाला Network है। सर्वप्रथम ARCNET द्वारा लोकप्रिय होने के बाद इसे Ethernet द्वारा अपनाया गया।

star topology kya hai hindi
स्टार topology का चित्र

Unshielded Twisted Pair (UTP) एक तरह की Ethernet Cabling होती है, जो Devices को Hub से जोड़ने के लिए use की जाती है। Coaxial Cable और साथ ही Optical Fiber को भी लक्ष्य किया जा सकता है।

स्टार टोपोलॉजी को Cable Structure (केबल संरचनाओं), वायरलेस राउटर, ईथरनेट या अन्य घटकों के साथ Implement (लागू) किया जा सकता है।

इस topology में सभी कंप्यूटर या Device आपस में एक दूसरे से नहीं जुड़े होते है बल्कि एक केंद्रीय Hub से जुड़े होते है। केंद्रीय Network एक Server होता है, और अन्य Device Client होते है।

जब भी कोई Computer Network द्वारा अन्य Computers को Data Send करता है। जिसके बाद उसे cable के साथ Central Hub या Switch में भेज दिया जाता है जिसके बाद वह यह Determined करता है की उसे एक योग्य Destination पर जाने के लिए कौन से Port के द्वारा Data भेजा जाना चाहिए।

स्टार topology के उदाहरण

Star टोपोलॉजी अधिकतर बड़े संगठनों में उपयोग की जाती है जैसे – शैक्षणिक संस्थान, और Business में जहाँ पर High Performance की Need होती है।

Home network में भी इसका उपयोग किया जाता है। especially जो Wireless होते है जिसमें Wireless Access Point (WAP) सभी नोड्स के लिए एक Central Connection की सुविधा प्रदान करता है।

स्टार topology कैसे काम करती है?

जैसे की कोई Computer दूसरे Computer को सुचना भेजना चाहता है तो वह Computer उस सुचना को Hub को भेजेगा जिसके बाद Hub उस Computer के पते की जांच करता है जिस पर message भेजा जाना है फिर वह उस message को आगे भेजता है।

Hub की अपनी किसी प्रकार की कोई याद नहीं होती है, इसलिए पहले Computer द्वारा सुचना भेजे जाने पर Hub को अन्य Computers और port से यह पता करना होता है की क्या वह उस Computer का Address है।

इस प्रक्रिया का नाम Address Resolution Protocol (ARP) है।

जिसे हम इस तरह से समझना सकते है की Hub Recipient Computer के सही addresses को ढूंढ कर उस तक notice भेज सकता है और Data को जिस जगह पर transfer करना है वहां उसे transfer कर सकता है।

स्टार topology Active या Passive नेटवर्क 

निचे बताये गई Information के आधार पर star topology या तो Active नेटवर्क है या Passive नेटवर्क.

  • यदि नेटवर्क Central नोड डाटा विस्तारण या सुधार की Process करता है।
  • अगर विद्युत शक्ति के sources की जरूरत होती है।
  • Network सक्रिय रूप से Data Transit को Control करता है।

star topology के लाभ (Advantages)

Star Topology के उपयोग से जो benefits होते है उसके बारे में हम आगे बताएंगे।

  • नए नोड्स को सिर्फ Switch से connect करके Network के साथ Add किया जा सकता है।
  • इसमें पुरे नेटवर्क पर प्रभाव डाले बिना नए Computer या machine को जोड़ भी सकते है और निकाल भी सकते है।
  • अगर एक cable या Device Fail हो जाता है तो बाकि के Device फिर भी काम करते है।
  • यह कम expensive होता है।
  • गलती ढूँढना आसान है क्योंकि इसमें Link को ease से पहचाना जा सकता है।
  • यह High-performance topology है क्योंकि इसमें Data Clash नहीं होता है।
  • Star नेटवर्क में विभिन्न तरह की machines को भी शामिल किया जा सकता है यानि की इसमें बड़ा Network बनाया जा सकता है।
  • इसमें message इच्छित Device को भेजा जाता है जिससे की यह उच्च प्रदर्शन वाला Network होता है।
  • यह Cyber Attack से पूर्ण रूप से सुरक्षित है।

स्टार topology के हानि (Disadvantages)

अब जहाँ इसके फायदे है तो इसके कुछ नुकसान भी होते है चलिए जानते है star topology के नुकसान क्या है।

  • Wired Star Topology के लिए ज्यादा cable की जरुरत पड़ती है। जिससे की बड़े Network के लिए यह महंगा होता है।
  • स्विच के Fail होने पर पूरा Network Fail हो जाता है क्योंकि इसमें कोई भी नोड Communicate नहीं कर सकता है।
  • Hub को ज्यादा Resources और पूर्ण रखरखाव की जरुरत होती है क्योंकि यह स्टार Topology का Central System (Central प्रणाली ) होती है।
  • इसमें Extra Hardware (Hub और Switch) की आवश्यकता होती है

क्या star topology सुरक्षित है?

स्टार टोपोलॉजी में Remote Branches (दूरस्थ शाखाएं), केंद्रीय site या Corporate मुख्यालय के साथ एक सुरक्षित तरीके से communicate कर सकते है। लेकिन इन शाखाओं को Intercommunication की अनुमति नहीं होती है।

यह सबसे महत्वपूर्ण है की अगर central site विफल हो जाता है, तो सारे connection खत्म हो जाते है यानि की बंद हो जाते है क्योंकि star topology में केंद्रीय साइट की अहम भूमिका होती है।

star topology को कैसे परिभाषित करेंगे?

स्टार टोपोलॉजी में Device आपस में ना जुड़कर एक central Network से जुड़े होते है जिससे की यह एक Star की आकृति बनाते है।

कहाँ पर इस topology का used किया जाता है?

ज्यादातर बड़े संगठनों में यह topology उपयोग की जाती है।

किस प्रकार काम करती है star topology?

पहले Computer किसी सुचना को Hub को भेजेगा। Hub उस Computer के addresses की जांच करके उसे उस Computer तक सन्देश भेजता है। Central नेटवर्क (Hub) इन सभी Device तक सूचनाओं को भेजने का काम करता है।

आज आप ने क्या sekha

मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को star topology क्या है के बारे में पूरी Information दी। और में आशा करता हूँ आप लोगों को star topology के बारे में समझ आ गया होगा.

मेरा आप सभी readers से गुजारिस है की आप लोग भी इस Information को अपने आस-पड़ोस, relatives, अपने friends में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत profit होगा. मुझे आप लोगों की Cooperation की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी Information आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

मेरा हमेशा से यही Try रहा है की मैं हमेशा अपने पाठकों या readers का हर तरफ से Help करूँ, यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी संदेह  है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन संदेह का हल निकलने की कोशिश करूँगा.

आपको यह लेख star topology का उपयोग कैसा लगा हमें comment by writing जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ learning और कुछ सुधारने का मोका मिले.मेरे Post के प्रति अपनी प्रसन्नता और curiosity को दर्शाने के लिए कृपया इस Post को Social नेटवर्क जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.